Hindi Diwas Speech (हिंदी दिवस पर भाषण) – Essay for Student on Hindi Divas in Hindi

Hindi Diwas Speech in Hindi – भारत देश दुनिया में सबसे विभिन्न संस्कृतियों वाला देश है। भारत देश का मानना है कि अनेकता में एकता है। भारत देश में  अनेक धर्म के लोग खुशी-खुशी रहते हैं और अपनी परंपराओं को आजादी से रखते हैं । भारत देश में अनेक प्रकार की भाषाएं बोली जाती है। इन्हीं में से ही एक भाषा है हिंदी हिंदी भारत देश में सबसे से अधिक बोली जाती है और हिंदी भाषा विश्व में तीसरे नंबर पर आती है। हिंदी भाषा को बोलने वाले लोग लिखने में और पढ़ने में भी इसका उपयोग करते हैं। हिंदी भाषा को भारत देश में सर्वोच्च स्थान प्राप्त है यह स्थान 1940 में हिंदी को राष्ट्रभाषा के रूप में माना जाने के बाद मिला।

हिंदी भाषा को विश्व में भी स्थान दिया गया है और इसके लिए अनेक प्रकार के कार्यक्रम किए जाते हैं जिसमें से एक कार्यक्रम है वर्ल्ड हिंदी  दिवस Hindi Diwas Speech इस दिवस को 10 जनवरी को मनाया जाता है। और अगर बात करें राष्ट्रीय हिंदी दिवस की तो इसको 14 सितंबर को मनाया जाता है।

हिंदी भाषा की एक प्राचीन भाषाओं में से एक है और हिंदी दिवस मनाने का उद्देश्य यह है कि हम हिंदी की विशेषताओं को ध्यान में रखें और हिंदी को बढ़ाने में कार्य करते रहें ताकि किसी दिन पूरे  विश्व में हिंदी भाषा को उपयोग में लाया जा सके।

हिंदी दिवस पर भाषण (Hindi Diwas Speech)

Hindi Diwas Speech

माननीय प्रधानाचार्य महोदय,  आदरणीय शिक्षकों और मेरे प्यारे दोस्तों

आप सब को सुप्रभात

मैं अजय पंडित,   हिंदी दिवस पर भाषण देने का अवसर प्राप्त हुआ है

मित्रों जैसे की हम सब जानते हैं आज हम सब हिंदी दिवस के  सुनहरे अवसर पर एकत्रित हुए है,  आज का दिन आप सबके लिए बेहद उपयोगी और महत्वपूर्ण है। हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है। तो आज इस दिन का उपयोग करते हुए मैं आपसे कुछ दिल की बातें करना चाहता हूं हमारा देश अनेकता में एकता रखने वाला देश है हमारे देश में अनेक धर्म संस्कृति, भाषा और परंपराओं को एक साथ सुचारू रूप से बनाया जाता है। हर एक इंसान को आजादी है कि वह किसी भी धर्म या संस्कृति को अपना सकता है . भारत में अनेक प्रकार की भाषाएं बोली जाती है इन  भाषाओं में से एक भाषा हिंदी भी है। Hindi Diwas Speech

बल्कि हिंदी भाषा सबसे अधिक उपयोग की जाती है आधे से ज्यादा हिंदुस्तान के लोग हिंदी  बोल और पढ़ सकते हैं। 

हाल फिलहाल के रिकॉर्डिंग की बात की जाए तो लगभग 35 करोड़ नागरिक हिंदी में बात करते हैं और यह आंकड़ा सिर्फ भारत में रहने वाले लोगों का है भारत के बाहर रहने वाले हिंदी भाषी लोग भी अनेक संख्या में रहते हैं। Hindi Diwas Speech

14 सितंबर 1949 की तारीख को हमें हमेशा याद रखना चाहिए क्योंकि इसी दिन हिंदी भाषा को भारत की राष्ट्रीय भाषा के रूप में अपनाया गया था और इसी दिन से हिंदी भाषा को एक उच्च दर्जा प्राप्त हुआ था।  और इसी वजह से हम 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाते हैं और आगे भी हमेशा मनाते रहेंगे।

हिंदी भाषा के  उदय की बात की जाए तो हिंदी भाषा एक इंडो आर्यन भाषा है। जिसे देवनागरी लिपि मैं भारत की आधिकारिक भाषाओं में लिखा गया है।

हिंदी भाषा को भारत की राष्ट्रभाषा बनाने में कुछ लोगों ने कड़ी मेहनत की थी इसमें से कुछ लोग का नाम है राजेंद्र सिंह,  काका  कालेलकर,  मैथिलीशरण गुप्त,  हजारी प्रसाद  दिवेदी  इत्यादि  इन महान लोगों ने हिंदी भाषा को  राष्ट्रभाषा बनाने में अहम योगदान निभाया था। 

इसके बाद भारतीय संविधान में भी कुछ बदलाव किए गए थे जैसे कि अनुच्छेद 343 के अनुसार,  हिंदी को आधिकारिक भाषा के रूप में माना गया। आवाज हिंदी को देश के प्रति सम्मान दिखाने के लिए हिंदी दिवस जैसे कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया।

Hindi Diwas Speech हिंदी दिवस एक त्योहार के रूप में मनाया जाता है इस दिन अनेक प्रकार के कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है (Hindi Diwas Speech) ज्यादातर स्कूलों में सरकारी कार्यालयों में हिंदी दिवस को सुचारू रूप से मनाया जाता है।

कुछ इतिहासकारों का मानना है कि हिंदी भाषा विद्वानों द्वारा निर्माण के उपयोग की जाने वाली प्रमुख  भाषाओं में से एक थी. हिंदी भाषा कुछ हद तक संस्कृत भाषा से मेल खाती है। अगर हम बात करें सोनी शताब्दी की ₹200 शताब्दी में राम चरित्र मानस को हिंदी में लिखा गया था जो भगवान राम की कहानी का वर्णन करनी है। इस कृति को गोस्वामी तुलसीदास ने लिखा था।  और अगर आप इसको पढ़ते हैं तो आपको कुछ हिंदी और संस्कृत का अनुभव होगा। 

यह सब के बाद हिंदी विकसित हो गई और हिंदी विकसित होने के बाद हमारी राष्ट्रभाषा के रूप में  बन गई है। 

वर्ष 1917 में, महात्मा गांधी ने भरूच में गुजरात शिक्षा सम्मेलन में प्रस्तुत एक भाषण में हिंदी के महत्व पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने जोर देकर कहा कि हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा के रूप में इस्तेमाल किया जाना चाहिए और अर्थव्यवस्था, धर्म एवं राजनीति के लिए संचार के रूप में भी इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

हमारे समाज में बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें पता नहीं होता है कि हिंदी दिवस कैसे मनाया जाता है? मैं आपको बता दूं की देश के सर्वप्रथम प्रधानमंत्री, जवाहरलाल नेहरू ने पहली बार 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाने का फैसला किया था। हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में भारत के विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों में हिंदी साहित्यिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों, प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता हैं जिसमें छात्र बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। जहां छात्र हिंदी में विभिन्न कविताओं का पाठ करते हैं तथा Hindi Diwas Speech हिंदी निबंध पढ़कर हिंदी भाषा को गर्वान्वित करते हैं। हिंदी दिवस के इस अवसर पर प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं और हिंदी में कहानियां पढ़ी जाती हैं। हमारे लिए यह बहुत सम्मान की बात है कि हमारी राष्ट्रभाषा हिंदी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय दोनों प्लेटफार्मों में लोकप्रियता हासिल कर रही है।

आज के आधुनिक समय में लोग पश्चिमी सभ्यता से काफी प्रभावित हुए हैं। हिन्दी भाषा का महत्व समाप्त होता जा रहा है। हिंदी दिवस लोगों को उनकी जड़ों से जोड़े रखता है और लोगों को उनकी मूल संस्कृति की याद दिलाता है। ऐसे कई भारतीय हैं जो आज भी भारतीय संस्कृति को बनाए रखने में गर्व महसूस करते हैं।

हिंदी दिवस भाषण पर 10 पंक्तियाँ (10 Lines on Hindi diwas speech in Hindi)

1. हिंदी साहित्य सम्मेलन के दौरान राष्ट्रभाषा के रूप में हिंदी की सिफारिश करने वाले महात्मा गांधी सबसे पहले व्यक्ति थे।

2. हिंदी के पुराने संस्करण हिंदुस्तानी, हिंदवी और खारी-बोली थी जो 10 वीं शताब्दी ईस्वी में बोली जाती थीं।

3. हिंदी दिवस एक ऐसा दिन है जो हिंदी को उसकी उचित पहचान देता है और इसे विलुप्त होने से बचाने के लिए मनाया जाता है।

4. हिन्दी का इतिहास लगभग 1000 वर्ष पुराना है। Hindi Diwas Speech

5. हिंदी आधुनिक इंडो-आर्यन भाषाओं के दायरे में आती है।

6. हिंदी विश्व की चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है।

7. दुनिया भर में लगभग 80 करोड़ लोग हिंदी बोलते हैं।

8. देवनागरी लिपि पर लिखी गई हिंदी, हिंदी का वास्तविक रूप धारण करती है जिसे भारत के संविधान ने अपनाया था।

9. हिंदी दिवस 14 सितंबर 1949 से मनाया जा रहा है।

10. हिंदी दिवस उन लोगों द्वारा एक त्योहार की तरह मनाया जाता है जो हिंदी पसंद करते हैं एवं बोलते हैं साथ ही यह युवाओं को उनकी जड़ों और संस्कृति के बारे में याद दिलाने का एक तरीका है।

Interesting facts about Hindi( हिंदी भाषा के बारे में रोचक तथ्य )

1. हिंदी – हिंदी शब्द की उत्पत्ति फारसी से हुई है।

2. क्या हिंदी सीखना आसान है? – हिंदी वर्णमाला के प्रत्येक अक्षर की अपनी स्वतंत्र और विशिष्ट ध्वनि होती है। परिणामस्वरूप, हिंदी शब्दों का उच्चारण ठीक वैसे ही किया जाता है जैसे वे लिखे जाते हैं, जिससे हिंदी भाषा सीखना आसान हो जाता है।

3. 5वीं सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा – हिंदी चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। यह दुनिया भर में लगभग 80 करोड़ लोगों द्वारा बोली जाती है।

4. आधुनिक देवनागरी लिपि – आधुनिक देवनागरी लिपि 11वीं शताब्दी में अस्तित्व में आई। Hindi Diwas Speech

5. हिंदी बोलने वाले देश – हिंदी पाकिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश, अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी, न्यूजीलैंड, संयुक्त अरब अमीरात, युगांडा, गुयाना, सूरीनाम, त्रिनिदाद, मॉरीशस और दक्षिण अफ्रीका सहित कई देशों में बोली जाती है।

6. हिंदी को अपनाने वाला बिहार पहला राज्य है – वर्ष 1881 में, बिहार ने उर्दू को हिंदी के साथ अपनी एकमात्र आधिकारिक राज्य भाषा के रूप में बदल दिया, इस प्रकार, हिंदी को अपनी आधिकारिक भाषा के रूप में अपनाने वाला भारत का पहला राज्य बन गया।

7. हिंदी के कुछ प्रमुख लेखक – काका कालेलकर, मैथिली शरण गुप्त, हजारी प्रसाद द्विवेदी, सेठ गोविंददास जैसे कई लेखकों ने हिंदी को राजभाषा बनाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

8. ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी में जोड़े गए 26 नए भारतीय अंग्रेजी शब्दों में आधार, डब्बा, हड़ताल, शादी – जनवरी में लॉन्च हुए ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी के 10वें संस्करण में 384 भारतीय अंग्रेजी शब्द हैं।

FAQs – Hindi Diwas Speech

प्रश्न: हिंदी दिवस कब मनाया जाता है?
उत्तर: हिंदी दिवस 14 सितम्बर को प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है।

प्रश्न: विश्व हिंदी दिवस कब मनाया जाता है?
उत्तर: विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी को प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है।

प्रश्न: हिंदी दिवस और विश्व हिंदी दिवस में क्या अंतर है?
उत्तर: Hindi Diwas Speech हिन्दी दिवस और विश्व हिंदी दिवस को लेकर बहुत से लोग भ्रमित रहते हैं। खास कर बच्चों को ऐसा लगता है की विश्व हिंदी दिवस और हिंदी दिवस दोनों समान हैं। दोनों ही दिवसों का उद्देश्य हिंदी भाषा का प्रचार प्रसार करना है। राष्ट्रीय हिन्दी दिवस जहां 14 सितंबर को मनाया जाता है वहीं, विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी को मनाया जाता है। पहला राष्ट्रिय हिंदी दिवस 14 सितंबर 1953 में मनाया गया था, जबकि विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी 2006 में पहली बार मनाया गया था।

Also Check –  Hindi Diwas Poem , Hindi Divas Images

Leave a Comment